Welcome to DarshanKhatuShyam.in

Live Darshan KhatuShyam Ji, Todays Darshan of Khatushyam ji, Khatushyam Ji darshan, Daily Darshan of khatu shyam ji
Note:- 1. DarshanKhatuShyam.in के द्वारा सभी के लिए इस समय अपने घर पे रहते हुए ऑनलाइन दर्शन करवाने का प्रयास किया जा रहा है जिससे सभी लोग प्रभु के दर्शन से लाभान्वित हो सकें।

Note:- 2. साथ ही विभिन्न भजन संग्रह, शायरी संग्रह, आरती , कथा संग्रह यहां समय समय पर उपलब्ध करवाने का प्रयास रहेगा जिससे कि सभी श्यामप्रेमियों को लाभ मिल सकें।

Note:- 3. प्रतिदिन के दर्शन करवाने का प्रयास रहेगा।।

Note:- 4. आज 15 जुलाई 2024 के 🌄प्रातः दर्शन खाटूश्याम जी हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है।

धन्यवाद।
DarshanKhatuShyam.in Team

।। 👇श्याम दर्शन👇 ।।




14 July 2024



15 Jul 2024



13 July 2024





Join WhatsApp ChannelJoin Now

विशेष सूचना के लिए यहाँ क्लिक करें👉👉 Click Here

खाटूश्याम चालीसा पढने के लिए यहाँ क्लिक करें👉👉 Click Here

।। अन्य ।।

खाटूश्याम जी - विशेष सूचना Click Here

खाटूश्याम जी के प्रातः दर्शन Click Here

खाटूश्याम जी के सन्ध्या दर्शन Click Here

खाटूश्याम जी मन्दिर समय सारणी Click Here

खाटूश्याम जी के एकादशी दर्शन Click Here

खाटूश्याम जी की विशेष दर्शन Click Here

खाटूश्याम जी के भजन संग्रह Click Here

खाटूश्याम जी की शायरी Click Here

खाटूश्याम जी की कथाएँ Click Here

खाटूश्याम जी की चालीसा Click Here

खाटूश्याम जी की आरती Click Here

खाटूश्याम जी के Quotes Click Here

रोचक धार्मिक बातें Click Here

खाटूश्याम जी की रिंगटोन्स Click Here

खाटूश्याम जी के वीडियो स्टेटस Click Here

।। मेरे प्रभु मेरे श्याम ।।




मन्दिर खुलने एवं बंद होने की समय सारणी

ऋतु खुलने का समय बंद होने का समय
शीतकाल (प्रात:) प्रात: 5.30 बजे दोपहर: 1.30 बजे
शीतकाल (दोपहर) सांय 4.30 बजे रात्रि 9:30 बजे
ग्रीष्मकाल (प्रात:) प्रात: 4.30 बजे दोपहर: 1.30 बजे
ग्रीष्मकाल (दोपहर) सांय 4.30 बजे रात्रि 10:00 बजे

।। अधिक प्रमाणित वा सटीक समय सारणी के लिए मन्दिर में सम्पर्क करें, यह मात्र श्याम भक्तों के सूचनार्थ है ।।



आरती - समय सारणी

ऋतु आरती समय
शीतकाल मंगला आरती प्रात: 5.30 बजे
शीतकाल श्रृंगार आरती प्रात: 8.00 बजे
शीतकाल भोग आरती दोहपर 12.30 बजे
शीतकाल संध्या आरती सांय 6.30 बजे
शीतकाल शयन आरती रात्रि 9.00 बजे
ग्रीष्मकाल मंगला आरती प्रात: 5.30 बजे
ग्रीष्मकाल श्रृंगार आरती प्रात: 7.00 बजे
ग्रीष्मकाल भोग आरती दोहपर 12.30 बजे
ग्रीष्मकाल संध्या आरती सांय 7.30 बजे
ग्रीष्मकाल शयन आरती रात्रि 10.00 बजे

।। अधिक प्रमाणित वा सटीक समय सारणी के लिए मन्दिर में सम्पर्क करें, यह मात्र श्याम भक्तों के सूचनार्थ है ।।


Join WhatsApp ChannelJoin Now

Youtube ChannelSubscribe Now

Like Facebook PageLike Now

।। मेरे प्रभु मेरे श्याम ।।